महाभियोग सुनवाई पर बोले ट्रम्प, अमेरिकी इतिहास में ऐसे दोहरे मापदंड कभी नहीं देखे
November 16, 2019 • Sohan Kumar Balodia

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अपने खिलाफ चल रही महाभियोग की कार्यवाही के बारे में कहा कि उन्होंने अमेरिकी इतिहास में ''ऐसा दोहरा मापदंड'' पहले कभी नहीं देखा। ट्रम्प के खिलाफ सार्वजनिक सुनवाई के दूसरे दिन यूक्रेन में अमेरिका की पूर्व राजदूत मैरी योवानोविच ने डेमोक्रेट के नियंत्रण वाली संसदीय समिति के समक्ष गवाही दी।

'हाउस परमानेंट सेलेक्ट कमेटी ऑन इंटेलिजेंस' के डेमोक्रेटिक सांसदों द्वारा यूक्रेनियों के साथ ट्रम्प की बातचीत के बारे में योवानोविच से सवाल-जवाब किए जाने के मद्देनजर ट्रम्प ने ट्वीट किया, ''हमारे देश के इतिहास में इस प्रकार का दोहरा मापदंड कभी नहीं देखा?'' ट्रम्प ने राष्ट्रपति पद के चुनाव में जीत मिलने से बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की के साथ उनकी फोन पर पहली बार हुई बातचीत की जानकारी सुनवाई से पहले जारी की। उन्होंने कहा कि यह दर्शाता है कि उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है।

ट्रम्प ने उनके खिलाफ प्रतिनिधि सभा द्वारा शुरू की गई महाभियोग की कार्यवाही में डेमोक्रेटिक पार्टी पर रिपब्लिकन को नियत प्रक्रिया में भाग नहीं लेने देने का आरोप लगाया। उन्होंने व्हाइट हाउस में मीडिया से कहा, ''हमारे देश के इतिहास में ऐसा अपमान कभी नहीं हुआ, जो अब हो रहा है। मुझे अपनी बात रखने का अधिकार है। मुझे भी अन्य लोगों की तरह अपनी बात कहने का अधिकार है लेकिन उन्होंने (डेमोक्रेट्स ने) रिपब्लिकन का (प्रश्न करने का) अधिकार छीन लिया है।''

ट्रम्प ने कहा, ''मैंने आज देखा कि बहुत प्रतिभाशाली कुछ लोग (रिपब्लिकन) सवाल पूछना चाहते थे, लेकिन उन्हें अनुमति नहीं दी गई।'' इस बीच, व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टेफनी ग्रिशम ने दूसरे दिन की सुनवाई के बाद कहा कि संसदीय समिति के समक्ष महाभियोग की सुनवाई में ट्रम्प के खिलाफ ''कोई सबूत'' नहीं मिला और योवानोविच ने गवाही दी कि उन्हें राष्ट्रपति की संलिप्तता वाली किसी आपराधिक गतिविधि की जानकारी नहीं है। महाभियोग के तहत इस बात की जांच की जा रही है कि क्या ट्रंप ने अपने निजी एवं राजनीतिक हित के लिए पद का दुरुपयोग किया?